आम के अचार में फफूंद लगने पर क्या करें? कौन सा अम्ल प्रयोग होता है?

 

खराब आम का अचार

आम केअचार खराब हो गया है क्या करें? आम केअचार में बहुत ज्यादा फफूंद लग गए हैं, कैसे ठीक करें ?

Gudiya
आम के अचार में फफूंद लगने पर क्या करें?
अथवा
खराब होते आम के अचार को कैसे ठीक करें?
अथवा
अभी-अभी आम के अचार में फफूंद लगने शुरू हुए हैं, क्या करें?
अथवा
5 from 2 votes
Prep Time 10 mins
Cook Time 10 mins
10 mins
Total Time 10 mins
Course Main Course
Cuisine Indian
Servings 4 People
Calories 100 kcal

Ingredients
  

  • सिरका
  • बेंजोइक एसिड
  • सारसो तेल
  • नमक

Instructions
 

  • Question आम के अचार में फफूंद लगने पर क्या करें?
    अथवा
    खराब होते आम के अचार को कैसे ठीक करें?
    अथवा
    अभी-अभी आम के अचार में फफूंद लगने शुरू हुए हैं, क्या करें?
    अथवा
  • Question अभी-अभी आम के अचार में फफूंद लगने शुरू हुए हैं, तो इसे कैसे ठीक करें?
    Answer
    अचार खराब हो रहा है या यह कहें की अभी-अभी खराब होना शुरू हुआ है, यानी कि महक बदलनी शुरू हुई है, तो इसको ठीक करने के दो से तीन तरीके हैं| जिनमें से पहला तरीका देसी तरीका, जिसे आप नेचुरल तरीका भी कह सकते हैं नेचुरल तरीके से आप के अचार की महक यदि हल्की सी बदलनी शुरू हुई है, या हल्के-फुल्के फंगस दिखने शुरू हुए हैं, तो आप इसे 1 से 2 हफ्ते के लिए अच्छे से धूप में सुखाएं| उस प्रॉपर डब्बे को सुबह ले जाएं शाम को वापस नीचे रख दें, नमी से बचाए, क्योंकि बारिश के सीजन में ही अचार खराब होते हैं तो यदि बारिश हो रही है तो डब्बे को हटा ले नमी से बहुत ज्यादा-ज्यादा हमें बचाना है| 1 से 2 हफ्ते के बाद जब आप देखेंगे तो उसकी खराब होने की प्रक्रिया रुक चुकी होगी और साथ ही साथ जो अजीब सी महक आ रही थी, वह भी ठीक हो चुकी होगी यानी कि उसकी बदली हुई महक वापस से ठीक हो जाएगी| या तो दूसरा तरीका यह कहता है कि आप सोडियम बेंजोएट मार्केट से (जोकि किसी भी शॉप पर आपको मिल जाएगा) ले आकर, उसे आप अपने अचार में 1 किलो ने लगभग एक चम्मच सोडियम बेंजोएट यूज करें और ज्यादा आम का अचार हो तो उसमें आप उसका मल्टीप्लाई करके यूज़ करें| और तीसरा तरीका यह है कि (अचार में डालने वाला सिरका ) आप गन्ने वाला विनेगर जिसे आप काला सिरका भी कहते हैं, और या तो आप वाइट विनेगर (सफेद सिरका White vinegar)ऐड करिए|वाइट विनेगर लगभग हर अचार में ढलता है अगर आप अचार में डालते हैं तो इस की महक और टेस्ट दोनों अच्छे हो जाते हैं
  • Question2-आम केअचार को सुरक्षित रखने में (फफूंद से खराब होने से बचाने में) कौन सा अम्ल प्रयोग होता है?
    Answer-आम के अचार को खराब होने से बचाने के लिए या आम के अचार को सुरक्षित रखने के लिए हम बेसिकली दो तरह के अम्ल यूज़ करते हैं (अचार में डालने वाला एसिड नाम) जिसमें से पहला है, एसिटिक एसिड जोकि वाइट विनेगर में मिला होता है यानी कि आप वाइट विनेगर (सफेद सिरका) डाल कर आप अपने अचार को (ठीक कर सकते हैं) सुरक्षित रख सकते हैं और दूसरा सोडियम बेंजोएट, सोडियम बेंजोएट भी डाल कर आप अपने अचार को सुरक्षित रख सकते हैं
  • Question3- आम केअचार खराब हो गया है क्या करें?
    अथवा
    आम केअचार में बहुत ज्यादा फफूंद लग गए हैं, कैसे ठीक करें ?
    अथवा
    बहुत ज्यादा फफूंद लगे हुए आम के अचार को कैसे ठीक करें?
    Answer-
    यदि आम के अचार में फफूंद लग गए हैं तो अब आपके पास दो ऑप्शन है पहला आप इसे धूप में 2 से 3 हफ्ते के लिए रखें, सुबह रखें शाम को हटा ले यही प्रोसेस आपको दो से 3 हफ्ते करना है और यदि बारिश का सीजन है तो अपने अचार को नमी से जरूर बचाएं यह तरीका आपको तब अपनाना है, जब आप के अचार में हल्की सी महक बदली है या तो हल्के-फुल्के फफूंद लगे हैं| और यदि ज्यादा फफूंद लगे हैं तब दूसरा तरीका यह कहता है, कि आप इसे दो से तीन बार उबलते हुए पानी में धो लें इससे होगा क्या, कि जो फफूंद लगे हुए अचार हैं उनके फफूंद पूरी तरह से खत्म हो जाएंगे, वह दोबारा से जनरेट नहीं होंगे| और इसके बाद आप इसमें कुछ और मसाले डालकर एक तार की चाशनी वाले अचार में कन्वर्ट कर सकते हैं, आपको मीठा बनाना है या खट्टा बनाना है आप दोनों ही बना सकते हैं और यह खाने के लिए फटाफट रेडी होते हैं, क्योंकि पहले ही आपने इसको बनाकर रखा था{ इस तरीके से आप आम बचा लेंगे बस आप मसाले नहीं बचा पाएंगे|आप इसे 2 से 3 महीने के लिए आराम से यूज कर सकते हैं बशर्ते चाशनी एक तार की अच्छे से पक्की होनी चाहिए|
  • Question4-क्या करें कि आम का अचार खराब ना हो,(अचार को सुरक्षित रखने के उपाय)?
    अथवा
    आम के अचार को बनाने में हमें क्या क्या सावधानियां बरतनी चाहिए?
    अथवा
    how to remove fungus from pickles in hindi?
    Answer- अचार खराब होने का सबसे कॉमन रीजन है, नमी |नमी हमारे अचार को खराब कर देती है और इसको हम अनजाने में ही अपने अचार के साथ मिला देते हैं, जैसे कि मसाले हम धूप में सुखाएं बिना यूज करते हैं, कंटेनर को अच्छे से धूप नहीं दिखाते (सुखते नहीं}, गीले चम्मच या गीले हाथों से अचार को निकाल लेते हैं, अचार के डिब्बे का ढक्कन ढीला होना, अचार को बनाने से पहले आम को अच्छे से ना सुखाना और बार-बार अचार के डब्बे को खोलना (यह सारे कारण होते हैं) इन सब तरीकों से नमी हमारे अचार के अंदर पहुंच जाती हैं |
    अचार को सुरक्षित रखने के उपाय-
    1-मसाले यूज कर रहे हैं, तो मसाले यूज करने से पहले धूप में सुखा लें| भूनना एक अलग प्रोसेस है और धूप में सुखाना एक अलग प्रोसेस| क्योंकि शॉपकीपर, मसालों में पानी ऐड करके वेट बढ़ाते हैं, इससे उनका फायदा होता है, लेकिन यदि आपने इसे धूप में नहीं दिखाया तो इससे आपका नुकसान हो जाता है और आपको पता भी नहीं चलता कि प्रॉब्लम क्या हो गई तो कभी भी- कोई भी अचार बना रहे हैं तो आप सबसे पहले अपने मसालों को अच्छे तरीके से 1 से 2 दिन धूप में जरूर सुखाएं, उसके बाद ही आप उसे अपने अचार में डाल|
    2- शीशे का जार या चीनी मिट्टी के बर्तन अचार को रखने के लिए बहुत अच्छे माने जाते हैं| यह बहुत पुराने समय से चला रहा है|हालांकि हम लोग कभी-कभी प्लास्टिक के डिब्बों में भी रख देते है,लेकिन यह हमारे हेल्थ के लिए अच्छा नहीं होता|
    3-हमेशा अचार को मीडियम प्लेस पर रखें, जहां की बहुत ज्यादा गर्म या ज्यादा ठंडा ना हो|किचन में अचार तो कभी भी नहीं रखना चाहिए|
    4-समय- समय पर आप इसे धूप दिखाते रहें, थोड़ा बहुत धूप दिखाने से अचार लंबे समय तक चलते हैं (कुछ अचार ऐसे होते हैं, जिसमें धूप की जरूरत नहीं होती)
    5-एक चीज जो बहुत इंपॉर्टेंट है, कि हमें कभी भी चोट लगे हुए कटे-फटे या पके हुए या हल्के पीले पड़े आम कभी भी अचार के लिए जूस नहीं करना चाहिए
    6-अच्छे से वॉश कर ले और उसके बाद उसे अच्छे से सुखा लें|
    7-आम के अचार में आप एक चम्मच पिसी हुई फिटकरी (अचार में डालने वाला केमिकल) ऐड कर लीजिए इसे आप के अचार आम के अचार हरे हरे बने रहते हैं और कभी खराब नहीं होते |
    8.अचार वाले डब्बे को बार-बार खोलना या बंद करना नमी को हमारे अचार के अंदर जाने देना है तो आप एक टिफिन में 1 हफ्ते के लिए अचार को निकाल कर रख लें |
    9-और हमेशा चम्मच का यूज़ करें
  • Question5-सफेद फफूंद और काला फफूंद क्या होता (name of fungus in pickle
    ) है
    ?
    नींबू के अचार में काला फफूंद(
    black fungus in pickle
    ) लगता है और आम के अचार में सफेद फफूंद (white fungus on pickles)
    लगता है इन दोनों फफूंद से अपने अचार को बचाने के लिए, आप हमेशा अपने अचार को नमी से बचाने की पूरी पूरी कोशिश करें|

Video

Keyword mango, pickle, Spices

2 thoughts on “आम के अचार में फफूंद लगने पर क्या करें? कौन सा अम्ल प्रयोग होता है?”

Leave a Comment

Recipe Rating